har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

4/28/2021

क्या प्यार करना पाप है? क्या प्यार करना गलत है या सही

By:   Last Updated: in: ,

kya pyar karna pap hai;नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी Kailash education blog की एक और शानदार पोस्ट में जहां पर हम आज बात करंगे की क्या प्यार करना गलत है? क्या प्यार करना सही है? क्या प्यार करना पाप है? अगर आप के मन में यह सवाल है कि प्यार करना गलत है या सही, तो आपको आज इसका उत्तर मिल जायेगा की प्यार करना गलत है या सही है। अगर आप इसका उत्तर चाहते हैं तो आप इस article को पूरा पढ़े और अच्छे से समझ ले आपके प्यार को लेकर जितने भी प्रश्न है उनका उत्तर आज हम आपको इस पोस्ट मे देने वाले है। क्या प्यार करना पाप है? क्या प्यार करना सही है या फिर गलत यह जान लेने से पहले हमें यह जानना चाहिए कि आखिर प्यार क्या है? तो चलिए बिना आपका समय खराब किये शरू करते हैं हमारा आज का article बस आप हमारे साथ बने रहे और इस article को पूरा पढ़े।

प्यार क्या है?

आखिर प्यार है क्या, इस प्रश्न का उत्तर तो सभी को पता है लेकिन सभी की प्यार को लेकर अपनी-अपनी अलग-अलग राय होती है। किसी के लिए प्यार किसी को चाहना होता है, तो किसी के लिए जिसे वह पसंद करता है उसकी देखभाल करना होता है और किसी के लिए तो प्यार जिसे वह पसंद करता है उसे पाना होता है, मेरा मतलब है अगर आप लड़के या लड़की है तो बिना लड़की या लड़के की मर्जी से उसे पाना होता है जिसे हम One side love भी कहते हैं। लोग कहते हैं कि प्यार दिल से होता है पर science कहता है कि दिल का काम सिर्फ धड़कना और पूरे शरीर में खून की सप्लाई करना होता है। तो किस की सुने की आखिर प्यार होता क्या है। असल में प्यार वो होता है जो आप अपने आप से करते हैं। अगर आपकी life में भी कोई ऐसा है जिसे आप अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करते हैं अपने आप से ज्यादा उसकी care करते हैं तो समझ लीजिए की आपको उससे प्यार है। अगर आप किसी लड़के या लड़की को देख कर यह कहते हैं कि आपको उससे प्यार हो गया तो वह प्यार नहीं है, यह सिर्फ और सिर्फ attraction है, आज की युवा पीढ़ी मे प्यार के नाम पर आर्कषण ही अधिक देखने को मिलता है, जबकि आर्कषण और प्यार दोनो अलग-अलग चीजें है, इन दोनों मे अंतर की बात हम अगले लेख मे करेंगे। 

दरअसल प्यार वो होता है जो आपके माता पिता बिना किसी स्वार्थ के आपसे करते हैं। पर आज के इस article में हम सिर्फ उस प्यार की बात करने वाले हैं जो पति और पत्नी के बीच में होता है। चलिए जानते हैं कि क्या प्यार करना पाप है।

क्या प्यार करना पाप है? 

kya pyar karna pap hai;अगर आप मुझसे पूछते हैं कि क्या प्यार करना पाप है, तो इस पर मेरा आसान सा और सरल सा उत्तर है, कि यदि आपका प्यार नि:स्वार्थ है तो प्यार करना कोई पाप नहीं है। पर प्यार के नाम पर किसी के साथ गलत करना या फिर उसका इस्तेमाल करना चाहे वह शरीरक तौर पर हो या आर्थिक तौर पर वह गलत नहीं पाप है अपराध है जिसकी इस दुनिया में कोई खास सजा नहीं है पर उस ऊपर वाले की दुनिया में सजा बहुत ही खतरनाक है। आप शायद किसी के साथ प्यार के नाम पर गलत करके बच जाएंगे अपने गुनाह को छुपा लेंगे पर ऊपर जाकर भगवान को क्या मुँह दिखाएँगे। कहते हैं कि प्यार को भगवान ने बनाया है और जिस चीज़ को भगवान ने ही बनाया है वह चीज़ कैसे गलत हो सकती है। जो चीज़ नफरत से, पैसे से या जबरदस्ती से नहीं होती वह चीज़ प्यार से होती है। कहते हैं कि प्यार वो चीज़ है जो पत्थर को भी पिघला सकती है। प्यार से पवित्र अहसास पूरी दुनिया में कही नहीं है। बाकि लाख मुद्दो की एक बात प्यार करना कोई पाप नहीं है। 

क्या प्यार करना पाप है? क्या प्यार करना गलत है या सही
क्या प्यार करना गलत है?
जीवन में कभी भी किसी को जबरदस्ती प्यार मत करो। आप कभी भी खुश नहीं रह पाएंगे।

क्या प्यार करना गलत है? 

kya pyar karna galat hai;इसका जबाब बिना सोचे समझे देना सही नही होगा। हमारे भारत मे हम जिस समाज मे रहते है उसे बहुत अधिक महत्व दिया जाता है। हालांकि  अब आधुनिकता का दौर है, फिर भी कही-कही हमारा भारतीय समाज प्रेम विवाह को स्वीकार नही करता। यहाँ पर हर काम समाज के अनुरूप ही होता है, और प्यार भी समाज के अंतर्गत ही आता है। जिसपर समाज की विशेष नजर रहती है। जो की प्रेम विवाह मे व्यवधान उत्पन्न करता है। यानि की प्रेम विवाह करना समाज विरोधी माना जाता है, लेकिन सभी जगह पर ऐसा नही होता है, कुछ रूढ़ीवादी समाजो मे ज्यादतर ऐसा देखा जाता है।

प्यार करना सही या या गलत? इस दुनिया की हर चीज़ के दो फहलू होते है, एक अच्छा और दूसरा बुरा। यदि आपमे सही और गलत की पहचान है तो प्यार करना गलत नही है। कहने का मतलब यह है कि आप जिससे प्यार करते है, और वो आपके शरीर, चेहरे, खुबसूरत, और आर्थिक स्थिति को छोड़कर आपसे निःस्वार्थ प्यार करता है तो यह गलत नही है। लेकिन अगर कोई आपकी आर्थिक स्थिति, शरीर और चेहरे से प्यार करता है तो उससे प्यार करना सही नही है। 

प्यार करना गलत कब हो सकता है? 

निम्न परिस्थितियों मे प्यार करना नुकसान देह हो सकता है--

1. शारिरीक आर्कषण को देख कर प्यार करना। 

2. चेहरे की सुन्दरता या आर्थिक स्थिति को देखकर प्यार करना।

3. अनजान या अजनबी से प्यार करना जिसे आप ठीक से जानते ही न हो।

4. प्यार करने के पीछे शारिरीक भूख की घटिया मानसिकता का होना।

5. विवाह से पहले ही अमर्यादित होना।

6. ऐसे समय मे प्यार करना जब आप अपनी पढ़ाई-लिखाई और अपने करियर को लेकर जीवन मे संघर्षरत हो। ऐसे मे relationship मे रहना आपको disturb कर सकता है।

7. प्यार मे धोखा मिलने पर पागलपन्ती करना, जैसे हाथ की नशे काटना, मरने की कोशिश करना। यह किसी तरह से सही नही है। आपके माता-पिता ने आपको किसी लड़का या लड़की के पीछे रोने या मरने के लिए जन्म नही दिया है।

क्या अपना प्यार पाने से माता-पिता के प्यार में कमी आती है?

माता पिता के लिए उनकी संतान ही उनका सब कुछ होती है और एक संतान के लिए उसके माता पिता ही उसके गर्व करने का कारण होते हैं। लेकिन एक समय ऐसा आता है कि माता पिता और संतान के प्यार में कमी आ जाती है क्यों की संतान चाहती है कि वह अपने जीवन मे जीवन साथी अपनी मर्जी से चुने पर माता पिता कहते हैं कि हम अपने बच्चे का कुछ गलत तो चाहेंगे ही नहीं इसलिए वह चाहते हैं कि उनकी संतान उनकी मर्जी से शादी करे। इस चक्कर में वह दोनों ही एक दूसरे से अलग होते जाते हैं। इस वजह से इस पवित्र रिश्ते में दरार आ जाती है। इसलिए जरूरी यही है कि माता पिता को अपनी संतान की ख़ुशी को स्वीकार करना चाहिए और संतान को अपने माता पिता से सारी बाते साझा करनी चाहिए इस विश्वास के साथ की उसके माता पिता उसकी भावनाओ को समझे और अपनी खुशी से शादी करने की सहमती दे और इस से माता पिता और संतान के पवित्र रिश्ते में दरार भी नहीं आयेगी और सब राजी ख़ुशी अपना जीवन व्यतीत करेंगे। बस यह इतनी छोटी सी बात ही होती है जिसे लोग समझ नहीं पाते और अपने माता पिता से अलग हो जाते हैं।

तो दोस्तों आज के article से आप लोग समझ ही गये होंगे कि प्यार करना कोई पाप नहीं है बल्कि उस प्यार के चक्कर में अपने सपनो को भूल जाना वो गलत होता है और प्यार के नाम का फायदा उठाकर कुछ गलत करना वह अपराध होता है जिसके लिए जो भी सजा दी जाये वह कम ही है। इसलिए प्यार करो पर उस प्यार का कभी भी फायदा मत उठाओ। तो दोस्तों यह था हमारा आज का article क्या प्यार करना पाप है? उमीद है आपको पसंद आया होगा। आप के लिए प्यार क्या है कृपया हमे नीचे दिए comment box में comment करके जरूर बताये। अगर आपको किसी से प्यार है तो वह क्या सच्चा है या फिर कोई attraction यह भी हमे जरूर बताएं। अगर आपको हमारा यह article पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करे, धन्यवाद।

हमारे अन्य लेख भी पढ़ना न भूलें,

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।