har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

5/27/2021

सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करें?

By:   Last Updated: in: ,

सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करें? 

sache dost ki pehchan kaise kare;नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस article में, जहां हम आपको बताने वाले हैं कि हम एक सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करें? क्योंकि हमारे दोस्त हमारे जीवन मे एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। इसलिए एक सच्चे दोस्त की पहचान करना जरूरी हो जाता है अगर आप को अच्छे या बुरे की पहचान ही नहीं होगी तो आप अपना जीवन ज्यादा देर तक खुशहाल नही रख पाएंगे। क्योंकी आप कई जगहों पर जाते होंगे जैसे स्कूल, कॉलेज या फिर ऑफिस आपको कितने सारे व्यक्ति मिलेंगे जिनमे से कई को आप अपना दोस्त मानते होगी। अच्छे दोस्त आपके जीवन मे खुशियाँ लाते है जबकि बुरे दोस्त आपके लिए समय आने पर मुसीबत बनते है। एक सच्चा दोस्त हमेशा हमारे जीवन मे परछाई की तरह हमारे अच्छे और बुरे समय साथ खड़ा होता है।

सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करें?

अगर आप भी यह जानना चाहते हैं कि आपका दोस्त अच्छा है या बुरा? सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करे? आखिर एक सच्चे दोस्त मे किया खासियत होती है? तो आप इस article को शुरू से लेकर आखिर तक जरूर पढ़े। तो चलाये बिना आपका समय खराब किये शुरु करते हैं और जानते हैं वो तरीके जिनसे आप अपने दोस्त की पहचान कर सकते हैं। 

इन बातों से करें अपने सच्चे दोस्त की पहचान 

1. सच्चे दोस्त कभी अपने दोस्त पर शक नही करते

जी हाँ सच्चे दोस्त कभी भी अपने दोस्त पर शक नही करते वह अपने दोस्त पर विश्वास करते है, यदि कोई दोस्त आप पर शक करता है तो याकिन मानिए वह आपको अपना दोस्त नही मानता। 

2. एक सच्चा दोस्त आपकी बुराइयो के बारे में आपके मुंह पर बोलता है ना की आपकी पीठ के पीछे

अगर आप में कोई बुराई है और आपका कोई दोस्त उस बुराई के बारे में आपको बताता है और उस बुराई को सुधारने को कहता है तो आप उसकी बात का कभी भी बुरा न मानें क्योंकी वह आपका सच्चा दोस्त है और आपको एक दम परफेक्ट देखना चाहता है और उन दोस्तों से हमेशा बच कर रहना चाहिए जो आपकी बुराइयों को आपकी अच्छाइयां बताते हैं, ताकि आपको अच्छा लग सके और आप उसे अपना सच्चा दोस्त माने और उसकी जरूरत पढ़ने पर उसका काम करते रहे और वो आपका फायदा उठा सके और बाद में आपको अपने जीवन से चाय में गिरी मखी की तरह बहार निकाल कर फेंक सके। आपका सच्चा दोस्त ही आपको आपकी बुराईयों के बारे में बताएगा और आपके नकली दोस्त आपकी बुराइयो की भी तारीफ करेगा। इसलिए कहते हैं कि एक सच्चा दोस्त आपकी बुराइयो के बारे में आपके मुंह पर बोलता है ना की आपकी पीठ पीछे।

3. सच्चा दोस्त आपकी सफलता से कभी नही जलता 

एक सच्चा दोस्त आपकी सफलता से कभी जलता वह आपके सफल होने पर खुश होता है, आपकी खुशी मे वह अपनी ढूंढता है। 

4. सच्चे दोस्त आपको किसी की नज़रों मे या कदमो मे गिरने नही देते

सच्चा दोस्त आपका हमेशा साथ देगा वह उसके रहते आपको कभी भी किसे के कदमों मे गिरनें की नौबत नही आने देंगा।  

5. सच्चा दोस्त आपके अंदर के दर्द को महसूस कर सकता है

अच्छे दोस्त अपने दोस्त की झुठी मुस्कान को तुरंत पकड़ लेते है। सच्चे दोस्त केवल आपकी अच्छी आदतों का ही गुणगान नही करते वह आपके अंदर की बुराइयों के बारे मे भी आपको बताते है ताकि आप और बेहतर बन सके।

6. एक सच्चा दोस्त आपके सुख में साथ हो न हो पर आपके दुख में जरूर साथ रहता है

हर व्यक्ति के जीवन में कई सारे सुख आते हैं और कई सारे दुख आते हैं और सुख और दुख के समय में ही हमे पता चलता है कि कौन हमारा अपना है और कौन पराया है। आपका सच्चा दोस्त आपके सुख के समय में साथ हो या ना हो पर आपके दुख के समय में जरूर आपके साथ खड़ा होगा। 

जो दोस्त आपके सुख में साथ हो पर दुख में नहीं तो वह कभी भी आपका सच्चा दोस्त नहीं हो सकता। इसलिए कहते हैं कि बुरा समय ही हमे सही और गलत की पहचान करवाता है। इसलिए कहा जाता है कि एक सच्चा दोस्त आपके सुख में साथ हो न हो पर आपके दुख में जरूर साथ रहता है।

7. सच्चा दोस्त आपका माजक उड़ा सकता है लेकिन आपकी तकलीफों का कभी नहीं

एक सच्चा दोस्त आपका माजक उड़ा सकता है पर वह कभी भी आपकी तकलीफों का मजाक नहीं उड़ा सकता और जो दोस्त आपकी तकलीफ़ों का मजाक उड़ाता है। वह कभी भी आपका सच्चा दोस्त नहीं बन सकता। 

क्योंकी जो आपकी तकलीफ़ों का मजाक उड़ाता है उसे आपकी तकलीफ में मजा आता है और जिसे आपकी तकलीफ से ख़ुशी मिलती हो वो आपका सच्चा दोस्त कैसे हो सकता है? 

अगर आपको कुछ तकलीफ है तो आपका सच्चा दोस्त ही आपके साथ खड़ा होगा ना की आपका नकली दोस्त, आपका सच्चा दोस्त आपको दिलासा देगा वह हर वो मुंमकिन कोशिश करेगा जिस से आपकी तकलीफ दूर हो सके। सच्चे दोस्त की पहचान करने का यह बहुत बढ़िया तरीका है। क्योंकी बुरा समय ही यह बताता है कि कौन आपका है और कौन पराया।

8. एक सच्चा दोस्त आपको बुराई के रास्ते पर जाने से रोकता है ना की उस रास्ते पर चलने को कहता है

अगर आपका कोई दोस्त आपको कोई बुरा काम करने को कहता है। आपको नशे करने को कहता है आपको बुराई के रास्ते पर चलने के लिए बोलता है तो वह आपका सच्चा दोस्त नहीं हो सकता क्योंकी एक सच्चा दोस्त वही होता है जो अपने दोस्त को बुराई के रास्ते पर जाने से रोकता है और अच्छे काम करने की प्रेरणा देता है। अगर आप बुराई के रास्ते पर चल भी रहे हो तो आपके कान पकड़ कर आपको अच्छाई के रास्ते पर ले आये यह भी एक सच्चे दोस्त होने की पहचान है। 

अगर आपका कोई दोस्त आपको बुरे काम करने के लिए कहता है, आपको किसी भी प्रकार का नशा करने को कहता है। तो आप उसे साफ मना कर दे और उसे हमेशा-हमेशा के लिए छोड़ दे और मूड़ कर कभी भी उसकी ओर न देखे क्योंकी वह आपका नकली दोस्त है। अगर कोई बुरी लत है और आपका कोई दोस्त उस लत को छोड़ने के लिए कहता है तो आप उस बुरी लत को छोड़ दे और अपने उस दोस्त को कभी भी अपने से दूर न होने दे क्योंकी वह आपका सच्चा दोस्त है और सच्चे दोस्त बहुत ही मुश्किल से मिलते हैं।

9. सच्चा दोस्त आपके सीक्रेट को कभी किसी को नही बताता

यदि आप अपनी दोस्त पर विश्वास करते है और उसे अपने सारे सीक्रेट बता देते है, यदि वह आपका सच्चा दोस्त है तो वह आपके सीक्रेट को हमेशा सीक्रेट ही रहने देगा।

10. आपको हमेशा प्रेरित करेगा 

आपका सच्चा दोस्त आपको हमेशा प्रेरित करेगा न की आपको कभी हतोत्साहित करेंगा। आपका सच्चा मित्र हमेशा चाहेंगा की आप आगें बढ़े वह आपको अपनी कमियों के बारे मे जरूर बताएंगा लेकिन साथ ही वह आपको अपनी गलती सुधारेने के लिए आपको प्रेरित भी जरूर करेंगा।

11. आपकी भावनाओं की हमेशा कद्र करेंगा 

जिस प्रकार के सभी के चेहरे भिन्न-भिन्न होते है उसी प्रकार हमारे विचार भी भिन्न-भिन्न होते है। विचारों के अलग-अलग होने के बाबजूद भी आपने देखा होगा की कुछ लोगों का तालमेल काफी अच्छा बैंठता है इसका मुख्य कारण होता है एक-दूसरे की भावनाओं की कद्र करना।

आपके दोस्त से आपके विचार भलेही नही मिलते हो, लेकिन वह कभी भी आपके विचारों की उपेक्षा नही करेंगा वह आपके विचारो को ध्यान से सुनेंगा चाहे वह उसके खिलाफ ही क्यों न हो। आपका मित्र अगर सही और सच्ची भावनाओं वाला है तो आपकी छोटी सी बात का भी वह मान रखेगा।

12. सच्चे दोस्त का आपसे दोस्ती करने का कोई उद्देश्य नही होता 

सच्चे दोस्त किसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए आपसे कभी दोस्ती नही करते। आइए कुछ इसी चीजों को जाने लेते है जिस की वजह से आपके दोस्त अधिक बनते है--

(अ) लोकप्रियता

लोकप्रिय होना कोई बड़ी बात नही है यदि आप लोकप्रिय होते है तो अनेक लोग आपसे जुड़ने लगते है और दोस्ती करने लगते है। 

(ब) धन-संपत्ति 

धन संपत्ति यानि की अमीर दोस्त न जाने कब पैंसे की जरूरत पड़ जाए इसलिए लोग आपसे दोस्त करते है। यदि आपके दोस्त आपकी धन-संपत्ति से स्नेह रखते है तो उनसे सावधान रहें आपका पैंसे खत्म होते ही वह भाग खड़े होगे। 

(स) सुविधा 

क्या आप अपने दोस्तों को पैंसे उधार देते है, क्या आप उन्हें अपनी bike से उन्हें उनके ऑफिस तक छोड़ने जाते है। 

(ग) अकेलापन 

आपका दोस्त एकेला है और बौर हो रहा है, इसलिए आपसे बात कर रहा है। इससे पहले वह आपको कभी नज़र भी नही आता था। आपका ऐसा दोस्त किसी नये दोस्त के मिलने पर आपको छोड़ कर भाग जाएंगा।

तो दोस्तों यह थे कुछ तरीके जिनसे आप यह जान सकते हैं आपके सभी दोस्तों में से आपका सच्चा दोस्त कौन है? और अगर आपको पता चल जाये की आपका सच्चा दोस्त कौन है तो दोस्तों उसे आप कभी भी मत खोना क्योंकी आज के जमाने में सच्चे दोस्त बहुत ही मुश्किल से मिलते हैं। 

आज के मतलबी जमीने मे सच्चा दोस्त मिलना मुश्किल है, लेकिन नामुमकिन नही है, उम्मीद करते है की आप यह जान चुकें होगे की सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करें? इस article से संबंधित आपका कोई विचार या सुझाव है तो हमे नीचे comment कर जरूर बताएं।

हमारे अन्य लेख भी पढ़ें  

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।