रेखाचित्र किसे कहते है? रेखाचित्र का क्या अर्थ हैं

रेखाचित्र किसे कहते है? रेखाचित्र का क्या अर्थ हैं 

रेखाचित्र शब्द अंग्रेजी के 'स्क्रेच' शब्द का अनुवाद है तथा दो शब्दों रेखा और चित्र के योग्य से बना है।
जिस विधा में क्रमबद्धता का ध्यान न रखकर किसी व्यक्ति की आकृति उसकी चाल-ढाल या स्वभाव का, किन्हीं विशेषताएंओं का शब्दों द्वारा सजीव चित्रण किया है, रेखाचित्र कहलाती है। रेखाचित्र शब्द चित्रकला का है जिसका अर्थ ऐसा खाका जिसमें क्रमबद्ध ब्यौरे न दिए गए हों उसी के अनुकरण पर लिखना रेखाचित्र कहलाता हैं। इसी प्रकार थोड़े से शब्दों मे किसी व्यक्ति, घटना, स्थान या वस्तु को चित्रित कर देना कुशल रेखाचित्रकार का ही काम है। रेखाचित्र मे लेखक कम से कम शब्दों मे सजीवता भर देने का प्रयास करता है और उसके छोटे-छोटे पैने वाक्य तीव्र एवं मर्मस्पर्शी होते हैं। महादेवी वर्मा ने अपने आश्रित सेवकों को ही नही बल्कि पशुओं को भी रेखाचित्र के माध्यम से अमर बना दिया हैं।
रेखाचित्र गद्य साहित्य की आधुनिक विधा है। इस विधा मे लेखक रेखाचित्र  के माध्यम से शब्दों का ढ़ाँचा तैयार करता है। लेखक किसी सत्य घटना की वस्तु का या व्यक्ति का चित्रात्मक भाषा मे वर्णन करता है। इसमें शब्द चित्रों का प्रयोग आवश्यक है।
रेखाचित्रकारों मे महादेवी वर्मा, कन्हैयालाल मिश्र 'प्रभाकर' बनारसीदास चतुर्वेदी, रामवृक्ष बेनीपूरी एवं डाॅ. नगेन्द्र विशेप रूप से उल्लेखनीय है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां