11/27/2021

स्विस संघीय न्यायालय का गठन, क्षेत्राधिकार/शक्तियाँ एवं कार्य

By:   Last Updated: in: ,

प्रश्न, स्विट्जरलैंड की संघीय न्यायपालिका के संगठन, क्षेत्राधिकार एवं स्थिति की विवेचना कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड के सर्वोच्च न्यायालय के संगठन, कार्यों तथा शक्तियों का उल्लेख कीजिए। 

अथवा " स्विस संघीय न्यायाधिकारण के संगठन तथा शक्तियों का संक्षिप्त में परीक्षण कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड के सर्वोच्च न्यायालय के संगठन, कार्यों तथा शक्तियां बताइए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायालय के संगठन तथा कार्यों का वर्णन कीजिए।

अथवा " स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायपालिका की रचना तथा उसके कार्यों का वर्णन कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड की संघीय न्यायपालिका के संगठन एवं क्षेत्राधिकार का वर्णन कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड के संघीय सर्वोच्च न्यायालय के संगठन, कार्यों तथा शक्तियों का उल्लेख कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायपालिका की रचना तथा उसके कार्यों का वर्णन कीजिए। 

अथवा " स्विट्जरलैंड की न्यायपालिका पर एक निबंध लिखिये।

उत्तर 

स्विट्जरलैंड के समस्त संघीय क्षेत्र के लिए एक ही न्यायालय है जिसे संघीय सर्वोच्च न्यायालय कहा जाता हैं। स्विट्जरलैंड के सर्वोच्च न्यायालय को संघीय न्यायाधिकारण के नाम से भी जाना जाता हैं। स्विस संविधान के अनुच्छेद 106 में लिखित हैं कि "संघीय मामलों के न्याय प्रशासन के लिए संघीय न्यायालय की स्थापना की जायेगी।" 

स्विट्जरलैंड की संघीय न्यायपालिका का महत्व उतना अधिक नहीं हैं जितना कि संयुक्त राज्य अमेरिका में हैं। स्विस न्यायालय के अधिकार पर्याप्त सीमित हैं और वहाँ की शासन-व्यवस्था मे विशिष्ट स्थान नहीं रखता। 

जिस समय स्विट्जरलैंड का संविधान कार्यान्वित किया गया था उस समय संघीय न्यायालय के कार्य बहुत सीमित थे, क्योंकि संघीय नियमों की मात्रा अधिक नहीं थी। इसकी स्थापना 1848 के संविधान द्वारा की गई थी और उसके अधिकार सीमित थे, किन्तु बाद में संशोधन द्वारा उसके अधिकारों में वृद्धि की गई। वर्तमान में संघीय न्यायालय स्थायी रूप से बण्ड नामक कैण्टन की राजधानी लाॅसेन में स्थित हैं।

स्विस संघीय न्यायालय का संगठन 

स्विस सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की संख्या कितनी हो यह निश्चित करने का अधिकार संघीय सभा को हैं। संघीय सभा समय-समय पर इसके सदस्यों की संख्या निश्चित करती रहती हैं। सन् 1875 में मात्र 9 न्यायाधीश थे परन्तु वर्तमान (2018) में इनकी संख्या 26 से 28 के बीच होती हैं। इसके अतिरिक्त संघीय न्यायाधिकारण में कुछ वैकल्पिक न्यायाधीशों की भी व्यवस्था हैं जो कि नियमित न्यायाधीशों की अनुपस्थित में कार्य करते हैं। इनकी संख्या 11 से 13 तक हो सकती हैं। इस समय में 26 न्यायाधीश और 12 वैकल्पिक न्यायाधीश हैं। 

योग्यता 

स्विट्जरलैंड का संविधान न्यायाधीशों की योग्यता के बारे में मौन हैं। स्विस संविधान में मात्र इतना लिखा है कि कोई भी स्विस नागरिक जो राष्ट्रीय परिषद् का सदस्य चुने जाने की योग्यता रखता हो उसे संघीय न्यायाधिकारण का न्यायाधीश बनाया जा सकता हैं। इस संबंध में यह प्रतिबंध भी है कि संघीय संसद या संघीय सरकार के सदस्य या उनके द्वारा नियुक्त कर्मचारी इन पदों के लिए चुनाव नहीं लड़ सकते। 

न्यायाधीशों के वेतन तथा भत्ते 

संघीय न्यायालय के न्यायाधीशों का वेतन और भत्ता आदि संघीय संसद द्वारा निर्धारित किये जाते हैं। वैकल्पिक न्यायाधीशों को नियमित वेतन नहीं मिलता, अपितु उन्हें केवल सेवाकाल के दिनों में ही वेतन मिलता हैं। 

न्यायाधीशों को पेन्शन दिये जाने की भी व्यवस्था हैं। यदि कोई न्यायाधीश 10 वर्ष तक संघीय न्यायालय का न्यायाधीश रहा हो अथवा 60 वर्ष की उम्र प्राप्त करने पर सेवामुक्त हो गया हो तो उसे वेतन का 40% से 60% तक पेन्शन के रूप मे प्राप्त होता हैं। 

न्यायालय के विभाग 

कार्य संचालन की सुविधा के लिए संघीय सर्वोच्च न्यायालय ने अपने तीन विभाग बना रखे हैं। इनमें पहला संवैधानिक तथा प्रशासनिक कानून का न्यायालय हैं, दूसरा दीवानी कानून का न्यायालय तथा तीसरा, फौजदारी अपील का न्यायालय हैं। प्रत्येक विभाग में 9 तक न्यायाधीश हो सकते हैं। अन्य कुछ उपविभाग भी यह न्यायालय रखता हैं। 

संघीय न्यायालय की कार्यप्रणाली 

फौजदारी न्यायालय के अतिरिक्त बाकी सभी विभागों के अध्यक्ष संघीय न्यायाधिकारण की बैठक में चुने जाते हैं। फौजदरी न्यायालय प्रत्येक अभियोग के लिए अपने सदस्यों में से ही किसी एक को अपना अध्यक्ष चुन लेता हैं प्रत्येक न्यायालय या विभाग और उपविभाग या छोटे न्यायालयों के लिए अलग-अलग गणपूर्ति निश्चित हैं। समस्त विभागों और उप विभागों में बहुमत के आधार पर निर्णय लिए जाते हैं। यदि किसी मामले में बराबर मत पड़ते हैं तो उस स्थिति में अध्यक्ष को निर्णायक मत देने की शक्ति हैं। संघीय न्यायालय की समस्त कार्यवाही जन सामान्य के लिए खुली रहती हैं। लेकिन सुरक्षा की दृष्टि से आवश्यक होने पर इसे गुप्त भी रखा जा सकता हैं।

स्विस संघीय न्यायालय का क्षेत्राधिकार अथवा शक्तियाँ एवं कार्य 

स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायालय का क्षेत्राधिकार भारत तथा अमेरिका के सर्वोच्च न्यायालय की तरह विस्तृत नहीं हैं, लेकिन यह बहुत कम भी नही हैं। स्विस सर्वोच्च न्यायालय का क्षेत्राधिकार निम्नलिखित मामलों में हैं--

1. संवैधानिक क्षेत्राधिकार 

संघीय न्यायाधिकारण का यह क्षेत्र अधिक विस्तृत नही हैं। यह अमेरिकी सर्वोच्च न्यायालय की तरह संविधान का रक्षक नहीं हैं। यह संघीय कानूनों के विरूद्ध संविधान की रक्षा करने में असमर्थ हैं। अपील यदि संघीय सभा कोई ऐसा कानून बनाती है जो संविधान की भावना के प्रतिकूल हो तो संघीय न्यायाधिकारण उसे असंवैधानिक घोषित नहीं कर सकता। 

स्विस संविधान के अनुच्छेद 113 में निम्नलिखित प्रकार के विवादों को संघीय न्यायाधिकारण के संवैधानिक क्षेत्राधिकार में सम्मिलित किया गया हैं-- 

1. संघीय अधिकारियों और कैण्टनों के अधिकारियों के बीच क्षेत्राधिकार संबंधी विवाद। 

2. विभिन्न कैण्टनों के मध्य आपस में सार्वजनिक विधि से संबंधित विवाद।

3. नागरिकों के संवैधानिक अधिकारों के उल्लंघन से जुड़े विवाद। यह उल्लंघन कैण्टन द्वारा किया गया तो तभी वह इसके तहत आएगा। 

2. दीवानी क्षेत्राधिकार 

इस क्षेत्र के तहत आने वाले मामलों को दो भागों में बांटा गया हैं-- 

प्रथम, प्रारंभिक क्षेत्राधिकार 

द्वितीय, अपीलीय क्षेत्राधिकार

(अ) प्रारंभिक अधिकार 

संघीय न्यायाधिकारण को निम्नलिखित प्रकार के दीवानी मामलों में प्रारंभिक क्षेत्राधिकार प्राप्त हैं-- 

1. स्विस परिसंघ और कैण्टनों के बीच उत्पन्न विवाद। 

2. परिसंघ और किसी निगम अथवा परिसंघ तथा किसी साधारण नागरिक के मध्य उत्पन्न विवाद, लेकिन इस संबंध में यह प्रावधान है कि विवादी साधारण नागरिक अथवा निगम हो, परिसंघ नहीं। दूसरी बात विवाद राशि 8,000 फ्रेंक से अधिक की हो। 

3. विभिन्न कैण्टनों के मध्य उत्पन्न विवाद। 

4. किसी एक कैण्टन और साधारण नागरिकों अथवा नियमों के बीच उत्पन्न होने वाले विवाद जिसमें वादी साधारण नागरिक या निगम हो और विवाद ग्रस्त राशि 8,000 फ्रेंक से कम न हो।

5. विभिन्न कैण्टनों अथवा कम्युनों के मध्य नागरिकता व अधिवास संबंधी विवाद। 

6. वे सभी विवाद जिन पर कैण्टनों के संविधान अथवा कानून द्वारा संघीय न्यायाधिकारण से प्रारंभिक क्षेत्राधिकार प्रदान किया गया हो। 

7. रेल से संबंधित प्रकरण। 

8. अन्य प्रकार के दीवानी विवाद भी संघीय न्यायाधिकारण में प्रस्तुत किये जा सकते हैं यदि उनसे संबंधित दोनों पक्ष उसे संघीय न्यायाधिकारण को सौंपने पर सहमत हो जाते हैं। इन विवादों का संघीय कानूनों से संबंधित होना जरूरी है और विवादित संबंध का मूल्य 10,000 फ्रेंक से अधिक हो। 

(ब) अपीलीय क्षेत्राधिकार 

स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायाधिकारण को संवैधानिक प्रावधानों व विधियों के तहत कैण्टनों के न्यायालयों के निर्णय के विरूद्ध अपीलों की सुनवाई करने का अधिकार है। ऐसे विवादों के लिए यह आवश्यक है कि कैण्टनों के न्यायालयों के फैसलों के विरूद्ध संघीय न्यायाधिकारण में 30 दिनों के अंदर अपील की जावे। इसके अतिरिक्त उन विवादों में भी यहाँ अपील की जा सकती हैं। जिनसे संबंधित दोनों पक्ष इसे संघीय न्यायाधिकारण में ले जाने के लिए सहमत हो और विवादग्रस्त सम्पत्ति का मूल्य 20,000 फ्रेंक से अधिक हो।

3. फौजदारी क्षेत्राधिकार 

इस क्षेत्र में संघीय न्यायाधिकारण को मात्र प्रारंभिक क्षेत्राधिकार ही प्राप्त हैं अपीलीय नहीं। संघीय न्यायाधिकार में निम्नलिखित तरह के फौजदारी प्रकरण प्रारंभिक सुनवाई के लिए आते हैं-- 

1. स्विस परिसंघ के विरूद्ध देशद्रोह तथा संघीय अधिकारियों के विरूद्ध विद्रोह और अपराध से संबंधित मामले। 

2. अन्तर्राष्ट्रीय विधि के विरुद्ध अपराधों से संबंधित मामले। 

3. ऐसे राजनीतिक अपराध जो अशांति के परिणामस्वरूप हुए हैं या जिनके कारण अशांति उत्पन्न हुई और जिनमें शास्त्र संघीय हस्तक्षेप की आवश्यकता पड़ी हो। 

4. ऐसे अपराधों से जुड़े मामले जो किसी संघीय प्रधिकारी द्वारा नियुक्त किये गये अधिकारी द्वारा किये गये हों और जो संघीय न्यायाधिकारण के समक्ष संबंधित प्राधिकारी के द्वारा लाये गये हों। 

5. नकली मुद्रा बनाने से संबंधित मामले। 

6. ऐसे विवाद जो संघीय न्यायाधिकारण के पास कैण्टनों द्वारा संघीय सभा की अनुमति से भेजे जाये। 

आंशिक न्यायिक पुनर्विलोकन की व्यवस्था 

स्विस संघीय सर्वोच्च न्यायालय को आंशिक पुनर्निरीक्षण का अधिकार दिया गया हैं। स्विट्जरलैंड के संघीय न्यायाधिकारण को संयुक्त राज्य अमेरिका या भारत के सर्वोच्च न्यायालय की तरह न्यायिक पुनर्विलोकन की शक्ति पूर्ण रूप से प्राप्त नही हैं। वरन् उसे यह शक्ति आंशिक रूप से ही प्राप्त हैं। स्विस संघीय न्यायालय को संघीय कानूनो के पुनर्विलोकन का अधिकार नहीं है। वह संघीय विधियों की वैधानिकता की जाँच नहीं कर सकता। संविधान में कहा गया हैं," सभी मामलों मे संघीय सर्वोच्च न्यायालय संघीय संसद द्वारा पारित विधियों को और सभी सर्वमान्य आज्ञाओं को तथा संघीय संसद द्वारा अनुसमर्थित सभी विधियों को मान्यता देने पर विवश होगा।" 

स्विस संघीय न्यायालय केवल कैण्टनों के कानूनों और कैण्टनों की सरकारों के कार्यों का पुनर्विलोकन कर सकता हैं और उन्हें अवैध घोषित कर सकता। 

स्विस संघीय सर्वोच्च न्यायालय की शक्तिहीनता के कारण 

अन्य संघों की तरह स्विस संघ में भी संघीय सर्वोच्च न्यायालय का प्रावधान किया गया हैं। परन्तु यहाँ न्यायपालिका को वैसा ऊँचा स्थान प्राप्त नहीं हैं। जैसा साधारणतः संघ राज्यों में संघीय न्यायालयों को मिलता हैं। इसका प्रमुख कारण इसकी शक्तिहीनता हैं। इसको अशक्त बनाने के निम्नलिखित कारण हैं-- 

1. इसके न्यायाधीशों का संघीय संसद द्वारा चुनाव। 

2. न्यायाधीश आजीवन अपने पद पर नहीं रह सकते, उनका कार्यकाल मात्र 6 वर्ष रखा गया हैं। 

3. इसको सीमित शक्तियाँ दी गई हैं। इसे संविधान की व्याख्या और संघीय कानूनों की न्यायिक पुनर्विलोकन की शक्ति प्राप्त नहीं हैं। 

4.  संघीय संसद कुछ मामलों में सर्वोच्च न्यायालय के निर्णयों को रद्द कर सकती हैं। 

5. प्रत्यक्ष प्रजातंत्र प्रणाली जिसके कारण जनता स्वतः ही व्यवस्थापिका के कानूनों को अस्‍वीकृत कर सकती हैं।

यह जानकारी आपके के लिए बहुत ही उपयोगी सिद्ध होगी

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

आपके के सुझाव, सवाल, और शिकायत पर अमल करने के लिए हम आपके लिए हमेशा तत्पर है। कृपया नीचे comment कर हमें बिना किसी संकोच के अपने विचार बताए हम शीघ्र ही जबाव देंगे।