7/29/2020

भूकंप किसे कहते है? जानिए

By:   Last Updated: in: ,

भूकंप किसे कहते है (bhukamp kise kahate hain)

भूकम्प एक ऐसा संकट है जो अचानक प्रभावित करता है। भूकंप किसी भी समय, अचानक बिना किसी चेतावनी के आता है। भूकंप वह घटना है जिसके द्वारा भूपटल मे हलचल पैदा होती है तथा कम्पन होता है। यह कंपन तरंग के रूप मे होता है। जैसे-जैसे ये तरंगे केन्द्र से दूर जाती है उनकी शक्ति एवं तीव्रता का ह्रास होता है। भूकंप का प्रभाव दो रूपों मे होता है। प्रथम प्रभाव उत्पत्ति केन्द्र के चारों तरफ तरंगों के द्वारा प्रसारित होता है यह क्षैतिज प्रभाव होता है। दूसरा प्रभाव धरातलीय भागों मे ऊपर तथा नीचे की तरफ लम्बवत रूप से होता है। भूकंप का यह स्वरूप अत्यंत विनाशकारी होता है। जहाँ से भूकम्प की शुरुआत होती है उस स्थान को भूकंप का केंद्र कहते है। धरातल पर सर्वप्रथम भूकंप लहरों एवं हलचलों का अनुभव यही होता है भूकम्प केन्द्र से जो लहरें प्रसारित होती है उन्हें लहरें कहते है। भूकम्प की तीव्रता और परिणाम का मापन रिक्टर पैमाने पर किया जाता है। भूकंप उत्पत्ति के अनेक कारण हैं।
ऐसा समझा जाता है कि पृथ्वी की सतह बड़ी-बड़ी प्लेटों से बनी है। ये प्लेटें पृथ्वी की आंतरिक गर्मी के कारण एक-दूसरे की तरफ खिसकती है। इनके खिसकने अथवा फैलने से भूकम्प आता है। जहाँ दो प्लेटें मिलती है पर्वत बनते है और जहाँ से बाहर खिसकती है वहां नई सतह का निर्माण होता है, ज्वालामुखी उद्गार इन्हीं से संबंधित है।

भूकंप के दुष्प्रभाव को कम करने के उपाय

1. भूकंप प्रभावित क्षेत्रों मे भवनों का डिजाइन व वास्तुकला इंजीनियरी के सहयोग से तय होना चाहिए। भवन निर्माण से पहले मिट्टी की किस्म का विश्लेषण कराना उपयुक्त होता है। नरम मिट्टी के ऊपर मकान नही बनाए जाने चाहिए। कमजोर मिट्टी पर निर्माण कार्य करने के लिए भवन डिजाइन मे सुरक्षा उपाय अपनाएं जाने चाहिए।
2. भारतीय मानक ब्यूरो ने भूकंप की दृष्टि से सुरक्षित निर्माण कार्य के लिए भवन संहिताएं और मार्गदर्शन निर्देश प्रकाशित किए है। भवन का निर्माण करने से पूर्व नगरपालिका, निर्धारित उपनियमों के अनुसार नक्शों की जाँच करती है।
3. वर्तमान मौजूदा भवनों जैसे कि अस्पताल, विद्यालय, दमकल, केन्द्र निर्माण मे भूकंप संबंधि सुरक्षा उपाय न अपनाए गये हो तो उनमे समयनुकुल नई तकनीक का अनुप्रयोग किया जाना आवश्यक है।

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।