7/30/2020

सुनामी किसे कहते है

By:   Last Updated: in: ,

सुनामी किसे कहते है (sunami kise kahate hain)

भूकंप और ज्वालामुखी से महासागरीय धरातल मे अचानक हलचल पैदा होती है और महासागरीय जल का अचानक विस्थापन होता है। परिणामस्वरूप समुद्री जल मे उध्र्वाधर ऊँची तरंगे पैदा होती है इन्हें सुनामी या भूकम्पीय समुद्री लहरें कहा जाता है।
सामान्यतः शुरू मे सिर्फ एक उध्र्वाधर तरंह ही पैदा होती है, परन्तु कालान्तर मे जल-तरंगों की एक श्रृंखला बन जाती है। महासागर मे जल तरंग की गति जल की गहराई पर निर्भर करती है। जल तरंग की गति उथले समुद्र मे कम और गहरे समुद्र मे ज्यादा होती है। गहरे समुद्र मे सुनामी लहरों की लम्बाई अधिक होती है और ऊँचाई कम। उथले समुद्र मे किनारों पर इन लहरों की ऊंचाई 15 मीटर या इससे अधिक हो सकती है। इससे तटीय क्षेत्र मे भीषण विध्वंस होता है।

सुनामी का कारण

समुद्र जल कभी भी शांत नही रहता है। समुद्री जल मे हलचल होना स्वाभाविक है। भूकंप और ज्वालामुखी का समुद्री क्षेत्रों मे आना ही सुनामी आपदा का प्रमुख कारण है। जब समुद्री क्षेत्रों के धरातल मे अचानक ज्वालामुखी या भूकम्प के उदभेदन की क्रिया होती है तो समुद्र जल मे गतिशीलता बढ़ती है जिसके कारण समुद्री जल मे ऊँची तरंगे उत्पन्न होती है जो हानि और संपदा विनाश का कारण बनती है।

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।