11/01/2020

संयुक्त परिवार और एकल परिवार में अंतर

By:   Last Updated: in: ,

संयुक्त परिवार और एकल परिवार मे अंतर (sanyukt parivar aur ekal parivar me antar)

संयुक्त परिवार और एकाकी परिवार मे अंतर इस प्रकार है--

1. एकाकी परिवार मे सदस्य संख्या कम होती है, जबकि संयुक्त परिवार मे सदस्यों की संख्या अधिक होती है। 

पढ़ना न भूलें; संयुक्त परिवार का अर्थ, एवं विशेषताएं

2. एकल परिवार मे साधारणतया एक या दो पीढ़ियों के सदस्य होते है, जबकि संयुक्त परिवार मे सामान्यतः तीन और कभी-कभी चार पीढ़ियों तक के सदस्य होते है।

3. एकाकी परिवार विवाह संबंध पर आधारित होता है, संयुक्त परिवार प्रधानतः रक्त सम्बन्ध पर आधारित होता है।

4. एकल परिवार मे स्त्रियों की तुलनात्मक रूप से अच्छी स्थिति और उन्हे अधिक स्वतंत्रता होती है, जबकि संयुक्त परिवार मे स्त्रियों की निम्न स्थिति और कम स्वतंत्रता होती है।

5. एकल परिवार और संयुक्त परिवार मे एक अंतर यह है कि एकल परिवार का सीमित कार्य क्षेत्र होता है, जबकि संयुक्त परिवार का कार्य क्षेत्र विस्तृत होता है।

6. एकाकी परिवार मे अधिकांशतः अधिक आयु मे विवाह होते है, जबकि संयुक्त परिवार मे प्रायः कम आयु मे ही विवाह कर दिये जाते है।

7. एकल परिवार परिवर्तनों के प्रति उदार होता है, जबकि संयुक्त परिवार परिवर्तनों के प्रति रूढ़िवादी होता है।

8. एकल परिवार मे व्यक्ति की प्रधानता होती है, जबकि संयुक्त परिवार मे सामूहिक हित पर अधिक जोर दिया जाता है।

9. एकाकी परिवार मे शिथिल नियंत्रण होता है, जबकि संयुक्त परिवार मे कठोर नियंत्रण होता है।

10. एकाकी परिवार तुलनात्मक रूप से कम स्थायित्व तलाक की सम्भावना अधिक होती है, जबकि संयुक्त परिवार मे अधिक स्थायित्व होता है और तलाक की संभावना कम होती है।

11. एकल परिवार और संयुक्त परिवार मे एक अंतर यह भी है कि एकाकी परिवार अधिक गतिशील होता है, जबकि संयुक्त परिवार कम गतिशील होता है।

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;आश्रम व्यवस्था (ashram vyavastha)
आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए; वर्ण व्यवस्था क्या है?
आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए; कर्म अर्थ, प्रकार, तत्व, सिद्धांत
आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;पुरुषार्थ का अर्थ, प्रकार या तत्व
आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए; संस्कार अर्थ, परिभाषा, महत्व, प्रकार

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।