आतंकवाद का अर्थ और परिभाषा

आतंकवाद क्या है? आतंकवाद किसे कहते है 

आतंकवाद एक ऐसा तत्व है जो जीवन के सभी पहलुओं को प्रभावित कर रहा हैं। आधुनिक समय मे आतंकवाद एक राजनीतिक मुद्दे के साथ-साथ एक कानूनी व सैनिक मुद्दा भी बन गया है। यह देशों की राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा भी हैं, किन्तु यह है क्या? आतंकवाद को परिभाषित नहीं किया जा सकता और न ही सभी देश इस सम्बन्ध में एकमत है। यहाँ तक कि विश्व संस्था संयुक्त राष्ट्र संघ भी आज तक आतंकवाद की सर्वानुमति वाली परिभाषा नहीं दे सकी। इसका कारण है कि जिन हिंसात्मक गतिविधियों को अमेरिका या पश्चिमी राष्ट्र आतंवाद कहते हैं उन्हें उनके समर्थक "जिहाद" "स्वतंत्रता की लड़ाई" "उत्पीड़न व शोषण" के विरुद्ध संघर्ष कहते हैं।
आतंकवाद का अर्थ और परिभाषा

आतंकवाद का अर्थ (aatankwad ka arth) 

शाब्दिक दृष्टि से 'टैरर" शब्द लैटिन भाषा से आया है। इस शब्द से 'व्युत्पन्न' (आतंकवाद) और एक्ट ऑफ टैरिज्य (आतंकवादी कृत्य) अब बहुत प्रचलित हो गए हैं। प्रोफेसर शदुलेस्कू के अनुसार आतंकवाद मूलतः सम्पत्ति तथा जीवन को भारी नुकसान पहुंचाने मे बम तथा ऐसा ही अन्य समर्थ युक्तियों अर्थात् विस्फोट के रूप मे स्वयं को प्रकट करता हैं।

आतंकवाद की परिभाषा (aatankwad ki paribhasha)

ब्रियां एम. जेकिन्स ने आतंकवाद की परिभाषा करते हुए लिखा है कि "हिंसा की धमकी, व्यक्तिगत हिंसात्मक कृत्य और लोगों को आतंकित करने के उद्देश्य से हिंसा का विचार आतंकवाद है।
संक्षेप मे आतंकवाद की अधिक पूर्ण परिभाषा इस प्रकार होगी, अन्तर्राष्ट्रीय कानून के एक पात्र द्वारा दूसरे पात्र के विरुद्ध निष्पादित आतंकवाद कृत्य" इसमे (अ) राज्य (ब) मुक्ति के लिए युद्धरत राष्ट्र, (स) अन्तर्राष्ट्रीय संगठन द्वारा निष्पादित आतंकवाद कृत्य शामिल होगा।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां