10/04/2020

राजा राममोहन राय का मूल्यांकन

By:   Last Updated: in: ,

राजा राममोहन राय का मूल्यांकन 

राजा राममोहन राय भारतीय पुनर्जागरण के अग्रदूत थे। वे प्रथम भारतीय सुधारक थे, जिन्होंने अंधविश्वासों, रूढ़ियों तथा कुरीतियों से पीड़ित भारतीय समाज को उन्नत एवं प्रगतिशील बनाने पर बल दिया था। इसी कारण राममोहन राय को प्रगतिशील सुधारों का प्रथम ईश्वरीय दूत तथा नवीन युग का अग्रदूत कहकर पुकारा जाता है। मिस कोलेट का कथन है कि " इतिहास मे राममोहन राय ऐसे जीवित पुल के समान है, जिस पर भारत अपने अपरिमित भूतकाल से अपने अपरिमित भविष्य की तरफ चलता है। वे एक ऐसे व्रत खंड थे, जो प्राचीन जातिवाद तथा अर्वाचीन मानवता अंध-विश्वास एवं विज्ञान, अनियंत्रित सत्ता और प्रजातंत्र, स्थिर रिवाज तथा अनुदार प्रगति के बीच की खाई को ढाँपे हुए थे।" विपिन चन्द्र पाल ने राममोहन राय का मूल्यांकन करते हुए लिखा है कि " राजा राममोहन राय ही प्रथम भारतीय थे, जिन्होंने भारतीय स्वतंत्रता का संदेश प्रसारित किया। वे चाहते थे कि भारत मे शीघ्र ही आधुनिक प्रजातंत्र की प्रणाली स्थापित कर दी जाये ताकि भारत भी शीघ्र ही सभ्य तथा स्वतंत्र देशों के समक्ष हो सके।" रवीन्द्र नाथ ठाकुर के अनुसार," राममोहन राय ने भारत मे आधुनिक युग का सूत्रपात किया।

वास्तव मे राजा राममोहन राय एक महान समाज सुधारक, विशुद्ध धर्म प्रवर्तक, शिक्षा शास्त्री, पत्रकार, सच्चे महर्षि, भारतीय राष्ट्रीयता के पैगम्बर तथा आधुनिक भारत के जन्मदाता थे। बेंथम ने उनके प्रति श्रद्धांजलि प्रकट करते हुए कहा था कि " उन्होंने संपूर्ण मानव की सेवा मे अपना जीवन लगा दिया। उनके द्वारा स्थापित ब्रह्म समाज आंदोलन उनके पीछे भी भारतीय संस्कृति मे काफी समय तक प्राण फूँकता रहा। धार्मिक अंध-विश्वास तथा सामाजिक कुरीतियों के विरुद्ध यह पहली और काफी हद सफल बगावत थी। कई विद्वानों ने राजा राममोहन राय को आधुनिक भारत का जनक कहा है।" वस्तुतः वे आधुनिक भारत के पिता थे।

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;मराठों के पतन के कारण

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;डलहौजी के प्रशासनिक सुधार

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;1857 की क्रांति के कारण और स्वरूप

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;ब्रह्म समाज के सिद्धांत एवं उपलब्धियां

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;राजा राममोहन राय का मूल्यांकन

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;लार्ड विलियम बैंटिक के सुधार

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;स्थायी बन्दोबस्त के लाभ या गुण दोष

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;महालवाड़ी व्यवस्था के लाभ या गुण एवं दोष

आपको यह जरूर पढ़ना चाहिए;रैयतवाड़ी व्यवस्था के गुण एवं दोष

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।