har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

3/08/2021

बौद्धिक संपदा अधिकार क्या है? अर्थ, परिभाषा

By:   Last Updated: in: ,

बौद्धिक संपदा का अर्थ 

bauddhik sampada arth paribhasha;जेरेमी फिलिप्स के अनुसार, सामान्य अर्थों मे बौद्धिक संपदा से आशय ऐसी वस्तुओं से होता है जो व्यक्ति द्वारा बुद्धि के प्रयोग से उत्पन्न होती है। 

विस्तृत अर्थ मे, बौद्धिक संपदा के अंतर्गत जहाँ एक ओर विचारों, संकल्पनाओं, व्यवहार ज्ञान एवं अन्य रचनात्मक कल्पनाओं का समावेश होता है। वही दूसरी ओर साहित्यिक, नाट्य, संगीतात्मक कलात्मक या ऐसे यांत्रिक अभिव्यक्तियों का भी समन्वय होता है, जो ऐसे विचारों, संकल्पनाओं आदि को मूर्त रूप प्रदान करते है। 

सामण्ड के अनुसार," वे अभौतिक वस्तुएं बौद्धिक संपदा है जो विधि द्वारा मानव प्रवीणता और श्रम के अभौतिक उत्पाद के रूप मे मान्यता प्राप्त करती है।

ब्लैक स्टोन के अनुसार," अन्य मूर्त संपत्तियों की भांति बौद्धिक संपदा, जिसका स्वरूप अमूर्त होता है, को राज्य के विधि के माध्यम से संपत्ति कक सामान्य व्याख्या के अंतर्गत मान्यता प्रदान की है।" 

"जब कोई व्यक्ति अपने विवेकपूर्ण क्षमताओं के द्वारा किसी मौलिक कृति का उत्पादन करता है तो वह अपनी इच्छानुसार उस मौलिक कृति के व्ययन का अधिकार रखना चाहता है और उसके द्वारा की गई व्यवस्था से भिन्न कोई प्रयत्न उसके अधिकारों पर अतिक्रमण प्रतीत होता है।" 

इस प्रकार से बौद्धिक संपदा ऐसी वस्तुएं होती है, जो अभौतिक एवं अर्मूत होती है, जिनको विधि अधिकारों का विषय-वस्तु मानती है। यह व्यक्ति के बौद्धिक श्रम से उत्पन्न होने वाला उत्पाद है। उदाहरणार्थ लेखक की रचनाएँ और आविष्कारों का आविष्कार बौद्धिक संपदा है। 

बौद्धिक संपदा अधिकार क्या है? (bauddhik sampada ka adhikar kya hai)

बौद्धिक संपदा अधिकार वे विधिक अधिकार है, जो मानवीय बुद्धि के उत्पादों के उपयोग को विनियमित करते है। इन अधिकारों का उद्देश्य एक निश्चित अवधि तक अधिकार स्वामी के स्पष्ट अनुमोदन के बिना किसी अन्य व्यक्ति द्वारा संरक्षित विषय-वस्तु का लाभ उठाने का मना करना है। बौद्धिक संपदा अधिकार लेखकों, आविष्कारों आदि की बुद्धि जनिति रचनात्मक और आविष्कारशील क्रियाकलापों को प्रोत्साहित, संवर्धित एवं संरक्षित करता है और गुणवत्तायुक्त माल और सेवाओं के विपणन को सरल बनाते हुए उपभोक्ताओं के हितों का भी संरक्षण करता है। 

इस प्रकार से बौद्धिक संपदा अधिकारों के अंतर्गत उन सभी विचारों, व्यवहार, ज्ञान, गोपनीय जानकारी इत्यादि को संरक्षण प्रदान किया जाता है। जो वाणिज्यिक तौर पर मूल्यवान होते है।

शायद यह आपके लिए काफी उपयोगी जानकारी सिद्ध होगी

यह भी पढ़ें; धारक क्या होता है?

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार, सवाल या सुझाव हमें comment कर बताएं हम आपके comment का बेसब्री इंतजार कर रहें हैं।