har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

1/04/2021

फुटकर विक्रेता का अर्थ, परिभाषा, विशेषताएं, महत्व

By:   Last Updated: in: ,

फुटकर विक्रेता का अर्थ (futkar vikreta kise kahte hai)

futkar vikreta arth paribhasha visheshta mahatva;साधारण शब्‍दों में फुटकर विक्रेता या फुटकर व्यापार का अर्थ  ऐसे विक्रेता से है जो उत्‍पादक या थोक विक्रेता से माल क्रय (खरीद) करके उपभोक्‍ताओं को उनकी आवश्‍यकताओं के अनुसार थोडी-थोडी मात्रा में बेचता है फुटकर विक्रेता कहलाता है।

फुटकर विक्रेता से आशय वितरणकर्ता से लिया जाता है। जोकि प्रमुख रूप में अन्तिम उपभोक्‍ताओं के उनके निजी उपयोग के लिए वस्‍तुएं व सेवाएं बेचता है। ये अन्तिम उपभोक्‍ता  उन वस्‍तुओं या सेवाओं को पुन: कि‍सी रूप मे बेचने के लिए क्रय नही करते है। फुटकर वितरण करने वाले विक्रेता थोक व्‍यापारियों से थोडी-थोडी मात्रा में क्रय कर अन्तिम उपभोक्‍ताओं को उनकी मांग के अनुसार विक्रय (बचते है) करते है।

फुटकर विक्रेता की परिभाषा (futkar vikreta ki paribhasha)

विलियम जे.स्‍टेण्‍टन के अनुसार,'' एक फुटकर व्‍यापारी या फुटकर भण्‍डार एक ऐसा व्‍यावसायिक उपक्रम है जो प्राथमिक रूप से अन्तिम उपभोक्‍ताओं को गैर-व्‍यावसायिक प्रयोग के लिए विक्रय करता है।''

अमेरिकन मार्केटिंग ऐसोसिएशन के शब्‍दों में,'' एक फुटकर व्‍यापारी व्‍यवसायी है या एक एजेन्‍ट है, जिसका मुख्‍य व्‍यवसाय अन्तिम उपभोक्‍ताओं को प्रत्‍यक्ष विक्रय है।''

कण्डिफ एवं स्टिल के शब्‍दों में,'' फुटकर विक्रेता में वह सभी क्रि‍याएं सम्मिलित होती है जो अन्तिम उपभोक्‍ताओं के सीधे बेचने से सम्‍बद्ध होती है।''

कनवर्स तथा हूाजी के शब्‍दों में,'' फुटकर विक्रेता को एक मध्‍यस्‍थ के रूप में परिभाषित कि‍या जा सकता है जो मुख्‍यत: अन्तिम उपभोक्‍ताओं को वस्‍तुएं बेचता है तथा यह उपभोक्‍ताओं और उत्‍पादकों के मध्‍य सम्‍बन्‍ध स्‍थापित करने में विशेषज्ञ है।''

फुटकर विक्रेता की विशेषताएं (futkar vikreta visheshta)

फुटकर विक्रेता की विशेषताएं इस प्रकार है--

1. फुटकर वितरण के अंतर्गत फुटकर विक्रेता द्वारा स्‍थानिय स्‍तर पर कम मात्रा में वस्‍तुओं व सेवाओं को खरीदा-बेचा जाता है।

2. फुटकर वितरण में सदैव विविधता को प्राथमिकता दी जाती है क्‍योंकि विक्रेता को अपने ग्राहकों को संतुष्‍ट  करने के लिए एक वस्‍तु की विभिन्‍न प्रकार की किस्‍म रखनी होती है विशिष्‍ट दुकानें इस का उपवाद होती है।

3. फुटकर विक्रेता के ग्राहक आखरी उपभोक्‍ता होते है ये उपभोक्‍ता अपने निजी एवं अव्‍यावसायिक उपयोग के लिए माल क्रय करते है।

4. फुटकर विक्रेता गोदामों के स्‍थान पर दुकान की स्थिति तथा सजावट पर अधिक ध्‍यान देते है फुटकर विक्रेताओं की दुकान नगर की जनसंख्‍या के बीच मे या पास में ही होती है।

5. व्‍यापार  संचालन के लिए  फुटकर विक्रेताओं  को कम पूँजी की आवश्‍यकता होती है क्‍योंकि विक्रेता को अधिकतर माल को  क्रय उधार तथा विक्रय नकद कि‍या जाता है।

6. फुटकर विक्रेता मध्‍यस्‍थों की श्रृंखला के भीतर आखरी कड़ी के रूप में काम करता है इसी कारण यह ग्राहकों की सेवा व संतुष्टि पर ज्‍यदा जोर देता है उनसें व्‍यक्तिगत

सर्म्‍पक बनाये रखता है।

7. फुटकर विक्रेता आखरी ग्राहकों के क्रय एजेण्‍ट के रूप में कार्य करते है न की निर्माता अथवा थोक विक्रेता के रूप में कार्य करता है।

8. फुटकर व्‍यापारिक संस्‍थनों  के मध्‍य नश्‍वरता दर व्‍यवसाय एवं उद्योग की अन्‍य श्रेणीयों की तुलन में अधिक रहती है।

फुटकर विक्रेता का महत्‍व (futkar vikreta ka mahatva)

फुटकर विक्रेता का महत्‍व इस प्रकार है--

1. उपभोक्‍ताओं से सर्म्‍पक बनाने की आवश्‍यकता नही

फुटकर व्‍यापारियों के होने से थोक व्‍यापारी को उपभोक्‍तओं से सर्म्‍पक बनाने की आवश्‍यकता नही रहती है जो दूर-दूर तक गलियों में वसे हुए है।

2. माल के विक्रय का प्रबन्‍ध करना

फुटकर विक्रेता थोक व्‍यापारियों द्वारा संग्रह कि‍ये गये माल की बिक्री के लिए समु‍चित प्रबन्‍ध करते है।

3. नव-निर्मित माल का प्रचार करना 

फुटकर विक्रेता नव-निर्मित माल को अपनी चतुराई से बेचने में सर्मथ होते है।

4. मौसम के अनुकूल माल का संग्रह 

ये वे फुटकर व्‍यापारी होते है जो ग्राहकों को मौसम की अनुकूल माल उपलब्ध कराते है जैसे, कपडे की दुकान एक ही दुकान पर जाड़े के दिनों में गरम कपडे तथा गर्मियों में ठण्‍डे कपडे विक्रय करती है।

5. सदैव ताजी वस्‍तुएं प्रदान करना 

छोटे फुटकर व्‍यापारी अपने पास उतना ही माल रखते है जितना की उसी दिन अथवा ज्‍यादा से ज्‍यादा अगले दिन तक बिक जाये इस स्‍थिति में ग्राहकों को सदैव ताजा माल मिलता रहता है जैसे फल ,सब्‍जी वाला डवल रोटी वाला आदि। 

6. नि:शुल्‍क परामर्श

फुटकर व्‍यापारी व ग्राहकों में अच्‍छे सम्‍बन्‍ध होते है वह अपने ग्राहको को वस्‍तुओं के गुण व उपयोगिता से सम्‍बन्‍धीत नि:शुल्‍क परामर्श प्रदान करते है।

7. साख सुविधाएं

 फुटकर विक्रेता अपने ग्राहकों को माल उधार भी देता है जिससे की ग्राहको की संख्‍या में वृद्धि होती है ऐसा करने से ग्राहकों में एक विशेष आकर्षण रहता है।

8. माल छांटने की सुविधा प्रदान करना

फुटकर विक्रेता विभिन्‍न स्‍त्रोतों से विभिन्‍न प्रकार की वस्‍तुओं का संग्रह करते है उस में ये अपने सभी ग्राहकों को माल छांटने की सुविधा देते है।

9. ग्राहको के ज्ञान में वृद्धि

फुटकर विक्रेता के द्वारा उपभोक्‍ता को कुछ ऐसी बातों का ज्ञान हो जाता है जिसके बारे में उन्‍हे पहले कुछ भी पता नही था इसका सीधा करण यह है कि फुकर व्‍यापारी विभिन्‍न वर्गो के उपभोक्‍ताओं की मांगों का अध्‍ययन करता है इस प्रकार वह सभी ग्राहकों को समय-समय पर परिवर्तनों से भली-भांती लोगो को परिचित करता रहता है।  

10. अन्‍य सेवाएं

(अ) माल की वापसी सुविधाएं,

(ब) घर पर सुपुर्दगी की सुविधाएं,

(स) शिकायतों का समाधान,

(द) मरम्‍मत की सुविधाएं आदि।

शायद यह आपके लिए काफी उपयोगी जानकारी सिद्ध होगी

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

आपके के सुझाव, सवाल, और शिकायत पर अमल करने के लिए हम आपके लिए हमेशा तत्पर है। कृपया नीचे comment कर हमें बिना किसी संकोच के अपने विचार बताए हम शीघ्र ही जबाव देंगे।