Har din kuch naya sikhe

Learn Something New Every Day.

3/13/2021

शादीशुदा जीवन को और भी अच्छा कैसे बनायें?

By:   Last Updated: in: ,

शादीशुदा जीवन को और भी अच्छा कैसे बनायें? 

shadi shuda zindagi kaise jeena chahiye;शादीशुदा लोगो के लिए टिप्स ( tips ), शादीशुदा जीवन की परेशानियों का हल, शादीशुदा जीवन को खुशहाल बनाने के तरीके

आज की भाग दौड़ की जिंदगी में इंसान पैसे के पीछे भाग रहा है और यह जरुरी भी है अगर किसी के पास पैसा नहीं होगा तो वह अपना जीवन अच्छे से नहीं जिए पायेगा। अपना और अपने परिवार का पेट नही भर पायेगा। परंतु वह पैसा कमाने के चक्कर में वह अपने परिवार को समय देना ही भूल गया है। वह यह भूल गया है कि जिंदगी में सिर्फ पैसा ही सब कुछ नहीं होता परिवार का साथ भी होना जरुरी है। पति का पत्नी को और पत्नी का पति को समय देना आवश्यक है। ज्यादा तर हम लोग देखते हैं कि पति हो या पत्नी अगर अपने परिवार से ज्यादा पैसे या काम को महत्व देते हैं। तो वह उन में काफी जांगड़े होते हैं और कई लोग तो divorce भी ले लेते हैं। एक दूसरे से अलग हो जाते हैं और दूसरी शादी कर लेते हैं पर वह फिर भी खुश नहीं रह पाते। इसलिए हम आज के article में यह जानेगे की शादीशुदा जीवन में किस वजह से दिकत आती है और उन्हें कसे दूर कर सकते हैं। शादीशुदा जीवन की समस्याएं और उन समस्याओं का समाधान इस प्रकार है--

1. समय 

शादीशुदा जिंदगी में सबसे बड़ी समस्या समय की ही आती है। हम अपने काम में इतना व्यस्त हो जाते हैं कि अपने घर वालो को समय ही नहीं दे पाते। जो की आगे जाकर झगड़े और divorce का सबसे बड़ा कारण बनता है। चाहे वह एक पति है या फिर एक पत्नी कभी भी अपने काम में इतना व्यस्त नहीं होना चाहिए कि अपने पति या पत्नी को समय ही ना दे पाए। 

हल :- इसका बस एक की हल है कि आप अपने पति या पत्नी को समय जरूर दे। तो आपके जीवन की समस्या खत्म हो सके। आप जितना हो सके उस से भी ज्यादा समय देने की कोशिश करे।

2. क़ुरबानी या किसी चीज़ का बलिदान

आज के दौर में हम देखते हैं कि ज्यादातर झगड़े इस वजह से भी होते हैं कि हम एक दूसरे के लिए एक दूसरी की ख़ुशी के लिए कभी क़ुरबानी नही देते। अपने मनमानी करते हैं। अपने काम दूसरे पर छोड़ देते हैं जैसे पति को खाना समय पर नहीं मिलता तो वह चिलाने लगता है। पति अगर बहार का काम गलत कर दे तो पत्नी चिलाने लगती है।

हल :-  पति और पत्नी एक दूसरे को एक दूसरे की परेशानी को समझना चाहिए। और उनके लिए क़ुरबानी देनी चाहिए। चाहे वह क़ुरबानी किसी चीज़ की हो या फिर अपनी खुशियो की।

3. आकड़ या घमण्ड

शादीशुदा जिंदगी में झगड़े की समस्या का एक कारण घमण्ड भी होता है। चाहे वह घमण्ड पति का पत्नी से ज्यादा पड़े लिखे होना या फिर पत्नी का पति से ज्यादा कमाना का घमण्ड हो। घमण्ड सिर्फ पति और पत्नी के रिश्ते को ही नहीं बल्कि और भी कई रिश्तों के टूटने का कारण बनता है जैसे दोस्ती। आप अगर घमण्ड को त्याग देते हैं तो आप जीवन में खुश रह पाते हैं। 

हल :- इसका सिर्फ एक ही हल है कि आप अपने अंदर के घमण्ड को त्याग दे।

4. प्यार की कमी

शादीशुदा जिंदगी में जब समय ज्यादा हो जाता है तब प्यार में कमी आनी शुरू हो जाती है। चाहे वह काम ज्यादा होने से समय की कमी की वजह से या फिर कोई और कारण से प्यार की कमी के वजह से आम तौर पर शादीशुदा जिंदगी में झगड़े होने लगते ही है। इसकी वजह से उनकी शादीशुदा जिंदगी अच्छी नहीं चलती। 

हल :- आपको अपने शादीशुदा जीवन में प्यार की कमी को पूरा करना होगा एक दूसरे के लिए समय निकालना होगा। एक दूसरे के साथ समय व्यतीत करना होगा। एक दूसरे को तोहफे देने होंगे। गुमने जाना चाहिए। और प्यार से रहना चाहिए एक दूसरे का आदर सम्मान करना चाहिए।

5. विशवास की कमी

शक एक ऐसा कीड़ा है जो इंसान के दिमाग को अंदर से एक दम खोखला कर देता है एक बार विशवास टूट गया तो उसे बनने में काफी समय लग जाता है। चाहे वह विशवास अपनी गलती की वजह से टूटे या फिर दूसरे की गलती की वजह से या फिर कोई गलतफहमी की वजह से विशवास टुटा हो ज्यादा तर विशवास टूटने का कारण यही होता है कि हम अपनी कोई भी बात एक दूसरे से साझा नहीं करते जिसकी वजह से गलतफहमी होती है और विशवास टूटता है।

हल :- विशवास को कायम रखने के लिए जरूरी यही है हम अपनी हर बात चाहे वह बात छोटी से छोटी है या बड़ी से बड़ी है हर बात को एक दूसरे से साझा करे और एक दूसरे पर विशवास को बनाये रखे।

शादीशुदा जीवन को खुशहाल बनाने के लिए  महत्वपूर्ण विचार 

1. पति और पत्नी दोनों को एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए।

2. पति को जब भी ऐसा लगे की उसकी बात से पत्नी को ठेस पहुंची है तो माफ़ी मांग लेनी चाहिए और दूसरी तरफ पत्नी को ऐसा लगे उसकी बात से पति को बुरा लगा है तो पत्नी को पति से माफ़ी मांग लेनी चाहिए।

3. पति को अपनी पत्नी के माता पिता का सम्मान करना चाहिए और पत्नी को अपने पति के माता पिता का सम्मान करना चाहिए।

4. पति और पत्नी को एक दूसरे को उपहार देते रहना चाहिए।

5. पति को अपनी पत्नी को आजादी से रहने का हक देना चाहिए।

6. पत्नी को अपने पति की मजबूरों और feelings को समझना चाहिए।

7. पति और पत्नी दोनों को एक दूसरे से हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बात साझा करनी चाहिए।

8. पति और पत्नी दोनों को बैठ कर सारी गलतफहमी को दूर कर लेना चाहिए।

9. पति और पत्नी दोनों को एक दूसरे का ख्याल रखना चाहिए।

10. पति और पत्नी दोनों को अपने अंदर के गुसे को छोड़ कर प्यार से रहना चाहिए।

इस article मे हमे आपको बताया की शादी शुदा जिन्दगी कैसे जीना चाहिए;अंत में बस यही कहना चाहता हूँ कि पति को समझना चाहिए पत्नी की जिंदगी हमसे ही शुरू और हम ही पर ख़त्म हो जाती है और पत्नी को यह समझना चाहिए कि पति घर से बाहर जो भी काम करता है वो हमारे भविष्य के लिए ही करता है।

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।