har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

3/24/2021

कर मुक्त आय क्या है? मुख्य कर मुक्त आये

By:   Last Updated: in: ,

कर मुक्त आय क्या है? (kar mukt aay ka arth)

कर मुक्त आय से आशय उस आय से है जिस पर आय कर नही लगता। कुछ आयें ऐसी होती है जो पूर्णतः कर-मुक्त है अर्थात वे कुल आय की गणना के लिये नही जोड़ी जाती और कुछ आयें अंशतः कर-मुक्त है अर्थात जिनका कर-योग्य हिस्सा कुल आय की गणना करने मे जोड़ा जाता है।

आयकर अधिनियम मे कुछ आयों को आयकर से मुक्ति दी गई है। इन्हें करमुक्त आय कहा जाता है। करमुक्त आयों को हम तीनों भागों मे बांट सकते है--

 1. पूर्णतः करमुक्त आय 

ऐसी आय जिन्हें हम न तो कुल आय मे शामिल करते है तथा न ही उन पर कर लगता है, पूर्णतः करमुक्त आय होती है। जैसे-- कृषि आय, आकस्मिक आय, शिक्षण संस्थाओं की आय, वीरता पुरस्कार कर निर्धारण वर्ष 93-94 से पूर्व आदि।

2. साझेदारी फर्म की आय मे साझेदार का भाग

एक साझेदारी फर्म मे एक साझेदार को जो हिस्सा प्राप्त होता था वह उसकी व्यक्तिगत आय मे जोड़ा जाता था। पर अब वह करमुक्त होता है। कर निर्धारण वर्ष 1993-94 से एक साझेदार को ब्याज, वेतन, कमीशन या अन्य पारिश्रमिक मिलता है तो वह उसकी व्यापार शीर्षक की आय मे जोड़ा जाएगा।

3. अन्य करमुक्त आय 

इस श्रेणी मे ऐसी प्रतिभूतियों के ब्याज की आय आती है, जिसे केन्द्रीय अथवा राज्य सरकार ने आयकर से मुक्त घोषित किया है। इन्हें कुल आय मे शामिल किया जाता है, पर आयकर की औसत दर से छूट दी जाती है।

मुख्य करमुक्त आयें (धारा-10) 

1. हिन्दु अविभाजित परिवार के सदस्य की आय

ऐसे परिवार के किसी सदस्य को परिवार आय मे से प्राप्त भाग करमुक्त होता है।

2. कृषि आय 

कृषि कार्यों से प्राप्त आय करमुक्त होती है।

3. छात्रवृत्तियां 

शिक्षा एवं शोध कार्यों के लिए मिलने वाली छात्रवृत्तियां या शिष्यवृत्तियां जो सरकार अथवा किसी भी संस्था से प्राप्त हो, करमुक्त होती है।

4. संसद सदस्यों एवं विधानसभाओं के सदस्यों के दैनिक भत्ते

दैनिक भत्ते पूर्णतः करमुक्त होते है। संसद सदस्यों के अन्य भत्ते भी करमुक्त होते है, विधानसभा के सदस्यो को प्राप्त दैनिक भत्ते एवं निर्वाचन क्षेत्र यात्रा कर मुक्त होगें, इसके अलावा आन्य भत्ते करयोग्य होंगे।

5. पुरस्कार 

साहित्यिक, वैज्ञानिक तथा कलात्मक कार्यों के लिए केन्द्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा अनुमोदित पुरस्कार करमुक्त होते है।

6. वीरता पुरस्कार 

सरकार द्वारा दिये गये इस प्रकार के पुरस्कार भी करमुक्त होते है।

7. निश्चित सरकारी प्रतिभूतियों का ब्याज 

जैसे डाकघर बचत खाते मे जमा राशि का ब्याज, सात प्रतिशत पूंजी विनियोग बाॅण्ड पर ब्याज, डाकघर संचयी जमा खाते का ब्याज, राहत पत्रों का ब्याज, विशेष धारण बाॅण्ड्स का ब्याज, राष्ट्रीय रक्षा स्वर्ण बाॅण्ड 1980 का ब्याज, ट्रेजरी बचत प्रमाण-पत्रों का ब्याज, नेशनल प्लान सर्टिफिकेट का ब्याज आदि।

8. भोपाल गैस त्रासदी क्षतिपूर्ति 

यह पूर्णतः कर मुक्त है।

9. चाय बोर्ड से प्राप्त सहायता 

चाय बोर्ड के माध्यम से चाय के पौधों को पूनः लगाने अथवा चाय के पौधों का नवीनीकरण करने अथवा चाय की खेती की जमीन का नवीनीकरण या एकीकरण के लिए प्राप्त सहायता पूर्णतः करमुक्त होगी।

10. शत-प्रतिशत निर्यात उपक्रय से लाभ।

11. अनुसूचित जातियों की आय

आदिवासी क्षेत्र मे अथवा नागालैण्ड-मणिपुर, त्रिपुरा, अरूणाचलप्रदेश अथवा मिजोरम क्षेत्रों मे रहने वालों की उन्ही राज्यों या क्षेत्रो मे उदित आय।

12. भारतीय रियासतों के राजाओं के प्रिवीपर्स समाप्त करने के फलस्वरूप केन्द्रीय सरकार द्वारा दिए गए ऐच्छिक भुगतान।

13. पौधे (रबड़, काॅफी, इलायची) लगाने वालों को प्राप्त आर्थिक सहायता।

14. जीवन बीमा निगम से पाॅलिसी पर प्राप्त बोनस।

15. स्वतंत्र व्यापार क्षेत्र मे स्थापित नए उद्योग के लाभ।

16. घरेलू कंपनी के अंशो एवं म्युचूअल फण्डों के यूनिटों पर लाभाश।

17. यूनिट 64 के हस्तांतरण से पूंजी लाभ।

18. शहरी कृषि के अनिवार्य अधिग्रहण पर प्राप्त क्षतिपूर्ति।

19. शहीद सैनिको के परिवार/सदस्यों को प्राप्त परिवार पेंशन।

20. कर्मचारियों के लिए करमुक्त आय

(A) मकान किराया भत्ता 

यह भत्ता एक सीमा तक करमुक्त होता है। 

(B) ग्रेच्युटी

शासकीय कर्मचारियों के लिए जो ग्रेच्युटी प्राप्त होती है, वह पूर्णतः करमुक्त होती है, लेकिन अशासकीय कर्मचारियों के लिए यह एक निश्चित सीमा तक करमुक्त होती है।

(C) पेन्शन के बदले प्राप्त एकमुश्त राशि 

केन्द्र सरकार, राज्य सरकार अथवा स्थानीय संस्था या सरकारी निगमों के कर्मचारियों को पेन्शन के बदले जो एकमुश्त राशि मिलती है, वह पूर्णतः करमुक्त होती है। अशासकीय कर्मचारियों के लिए यह राशि एक निश्चित सीमा तक करमुक्त होती है।

(D) अर्जित अवकाश ग्रहण करने से प्राप्त अवकाश का वेतन 

सरकारी कर्मचारियों को अवकाश ग्रहण के बाद जो अर्जित अवकाश का वेतन मिलता है वह पूर्णतः करमुक्त होता है। अन्य कर्मचारियों के लिए यह सीमित मात्रा मे करमुक्त होता है।

(E) छँटनी के कारण क्षतिपूर्ति 

यह भी सीमित मात्रा मे करमुक्त होती है।

(F) यात्रा रियायत 

यह भी निश्चित नियमों के अंतर्गत करमुक्त होती है।

(G) विदेश मे प्राप्त भत्ते 

भारत सरकार से विदेश मे कार्य करने पर प्राप्त भत्ते एवं अनुलाभ पूर्णतः करमुक्त होते है।

(H) वैधानिक एवं प्रमाणित फण्ड से प्राप्त रकम 

यह पूर्णतः करमुक्त होती है।

(I) कुछ विशेष भत्ते

एक निश्चित सीमा तक करमुक्त भत्ते है- शिक्षा भत्ता, होस्टल भत्ता, जनजातीय क्षेत्र भत्ता, सवारी भत्ता, यात्रा भत्ता आदि।

(J) अनुलाभों पर नियोक्ता द्वारा चुकाया गया आयकर।

21.  संस्थाओं  लिए करमुक्त आय

सार्वजनिक या पुण्यार्थ उद्देश्य से स्थापित की गई सामाजिक, खेलकूद, शैक्षणिक, चिकित्सा आदि संस्थाओं की आय सामान्यतया पूर्णतः करमुक्त होती है। जिन संस्थाओं की आय को करमुक्ति दी गई है, उनका विवरण इस प्रकार है--

(A) शैक्षणिक संस्थाओं की आय।

( B) चिकित्सालयों की आय

शर्ते:

1. जिनकी सकल प्राप्तियां 1 करोड़ रूपये से अधिक न हो। 

2. ऐसे सार्वजनिक अस्पताल जिनका वित्त पोषण पूर्ण रूप से या प्रमादी रूप से सरकार द्वारा किया जाता हो।

3. उन अस्पतालों या इसी प्रकार की अन्य संस्थानों की आय करमुक्त होती है जो बीमारी या मानसिक विकृति से ग्रस्त व्यक्तियों या स्वास्थ्य लाभ के दौरान व्यक्तियों या चिकित्सीय सहायता की जरूरत रखने वाले व्यक्तियों के इलाज के लिए हो। 

4. अन्य किसी अस्पताल या चिकित्सा संस्थान की आय जो अधिकृत सत्ता द्वारा अनुमोदित हो।

(C) वैज्ञानिक अनुसंधान संघों की आय।

(D) स्थानीय सत्ता की आय।

(E) खादी एवं ग्रामोद्योग संघ की आय।

(F) रजिस्टर्ड श्रम संघो की आय।

(G) सेवानिवृत्त व्यक्तियों के निगमों की आय।

(H) कुछ निश्चित फण्डों से प्राप्त हुई राशि।

(I) रेजीमेंट फण्ड अथवा गैर-सार्वजनिक फण्ड की आय।

(J) पेशेवर संस्थाओं की आय।

(K) न्यूज एजेन्सी की आय।

(L) नेशनल फाइनेंशियल होल्डिंग कंपनी की आय।

21. आदिवासी के लिए करमुक्त आय

(A) विदेशी नागरिक द्वारा विदेशी उपक्रम से भारत मे प्राप्त वेतन करमुक्त होगा, यदि कर्मचारी भारत मे गतवर्ष 90 दिन से अधिक नही रहा है।

(B) अनिवासी (विदेशी) खाते पर ब्याज।

(C) राष्ट्रीय बचत प्रमाण-पत्रों (VIII) पर ब्याज यदि यह विदेशी परिवर्तनीय विनियम से क्रय किये गये है।

(D) विदेशी जहाज पर नौकरी से आय।

23. विदेशी नागरिकों के लिए करमुक्त आयें

(A) अवकास मे अपने घर जाने के लिए नियोक्ता से प्राप्त यात्रा व्यय।

(B) भारत मे स्थित विदेशी दूतावासों के विदेशी नागरिकों को प्राप्त पारिश्रमिक।

(C) निश्चित शर्तें पूरी होने पर विदेशी संस्था के कर्मचारियों के रूप मे प्राप्त पारिश्रमिक।

(D) विदेशी मावन कल्याण संस्था से प्राप्त पारिश्रमिक।

(E) विदेशी कंपनी को तकनीकी सेवाओं के प्रतिफल मे प्राप्त फीस, अगर प्रसंविदा सरकार के साथ किया गया हो। 

(F) विदेशी कंपनी की कुछ आयों पर सरकार द्वारा या भारतीय संस्था द्वारा चुकाया गया आयकर।

(G) तकनीकी विशेषज्ञों को वैज्ञानिक अनुसंधानो के लिए प्राप्त पारिश्रमिक।

(H) शोध कार्य मे लगे विदेशी नागरिकों की आय।

(I) कुछ शर्तों के अधीन विदेशी तकनीकी विशेषज्ञों का पारिश्रमिक।

24. अवयस्क की आय

कर निर्धारण वर्ष 1993-94 से अवयस्क आय धारा 64 (1A) के अंतर्गत उसके अभिभावक की आय मे जोड़ी जाएगी, लेकिन प्रत्येक अवयस्क की आय 1,500 रूपये तक करमुक्त होगी।

25. सुकन्या समृद्धि खाते से आय

इसमे जमा की गई राशि पर धारा 80C के अंतर्गत कटौती मिलेगी तथा इस खाते मे जमा राशि पर ब्याज करमुक्त रहेगा।

26. जीवन बीमा बोनस

पाॅलिसी की अवधि पूरी होने पर परिपक्वता राशि या मृत्यु के कारण बीमा दावे की राशि अथवा कोई भुगतान या अर्जित बोनस की राशि करमुक्त होगी। 1 अप्रैल 2003 से 31 मार्च 2012 की अवधि मे जारी पाॅलिसी की परिपक्वता पर प्राप्त राशि या बोनस करमुक्त नही होगा, यदि पाॅलिसी की वार्षिक प्रीमियम बीमित राशि के 20% से अधिक हो। 31 मार्च 2013 के बाद जारी पाॅलिसी की प्रीमियम बीमित राशि के 10% से अधिक हो तो परिपक्वता राशि एवं बोनस करमुक्त नही होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।