har din kuch naya sikhe

हर दिन कुछ नया सीखें।

1/29/2021

आईएएस क्या है? योग्यताएं, प्रक्रिया

By:   Last Updated: in: , ,

आईएएस (IAS) की परीक्षा दुनिया की सभी मुख्य परीक्षा में सबसे कठिन मानी जाती है। आईएएस परीक्षा के लिए हर साल 1000000 से अधिक आवेदन आते हैं, परंतु केवल उसमें से एक हजार आवेदकों का ही चयन होता है। काफी लोग देश की सेवा करना चाहते हैं तथा वह अपनी क्षमता से इस देश के विकास में अपना योगदान देना चाहते हैं देश के प्रति ऐसी सद्भावना रखने वाले लोगों के लिए आईएएस जैसी सिविल सेवा परीक्षा बनी है। आईएएस परीक्षा में जितना लेखन संबंधी ज्ञान एवं कौशलों का आकलन किया जाएगा उतना ही वह व्यक्ति के व्यवहार तथा उसकी आईएएस बनने की एक ठोस नीति को भी जानने की अथक कोशिश करते हैं। यदि आप आईएएस की परीक्षा देना चाहते हैं तो अपने मस्तिष्क में एक सटीक निर्णय तथा उद्देश्य लेकर चले कि क्यों आप परीक्षा देना चाहते हैं। आज की हमारी पोस्ट आईएएस कैसे बने, आईएएस क्या है?, आईएएस किसे कहते हैं? आईएएस की योग्यता, आईएएस बनने की प्रक्रिया इत्यादि। आपको आईएएस से जुड़ी सभी जानकारी के बारे में पता चलेगा। आईएएस के लिए क्या योग्यता चाहिए होती है, एजुकेशन क्वालीफिकेशन और यह परीक्षा कितने भागों में पूर्ण होती है, इसकी जानकारी भी आपको मिलेगी। 

आईएएस क्या है? Who is IAS in hindi?

आईएएस (IAS) का फुल फॉर्म इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस होता है तथा इसे हिंदी में भारतीय प्रशासनिक सेवा भी कहते हैं। यह परीक्षा यूपीएससी द्वारा हर साल निर्धारित रूप से कराई जाती है। प्रत्येक वर्ष यूपीएससी द्वारा 24 पदों पर परीक्षा को कंडक्ट करने का प्रारूप तैयार होता है तथा जिसमें आईएएस तथा आईआरएस जैसी मुख्य परीक्षाओं को भी शामिल किया जाता है। आईएएस परीक्षा के लिए पहले से पाठ्यक्रम निर्धारित होता है तथा पाठ्यक्रम के आधार पर ही परीक्षार्थी या आवेदक को तैयारी करनी चाहिए तभी वह परीक्षा में सफलता प्राप्त कर पाएगा। आईएएस परीक्षा पास करने के बाद सरकार द्वारा जिला स्तर पर डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट, एसडीएम तथा अन्य पदों पर नियुक्त किया जाता है। 

आईएएस (IAS) के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? (What is the eligibility criteria for IAS in hindi?)

1.आवेदक को भारत का निवासी या नागरिक होना अनिवार्य है।

2. आवेदक को किसी भी महाविद्यालय तथा किसी भी स्ट्रीम एवं विषय में स्नातक स्तर प्राप्त होना चाहिए।

3. आवेदक की उम्र कम से कम 21 तथा अधिकतम 32 वर्ष होनी चाहिए।

4. सामान्य वर्ग (GENERAL CATEGORY) के आवेदक को केवल 6 बार परीक्षा अटेम्प्ट करने का अवसर प्रदान किया जाएगा।

5. अनुसूचित जाति तथा जनजाति(SC/ ST) के लिए आवेदक की उम्र 21 से 37 वर्ष होनी चाहिए तथा इस वर्ग के आवेदकों के लिए परीक्षा के अटेम्प्ट की कोई सीमा नहीं है। 

6. ओबीसी(OBC) वर्ग के लिए उम्र 21 से 35 वर्ष होनी चाहिए तथा इस वर्ग के आवेदक 9 बार परीक्षा के लिए अटेम्प्ट भर सकते हैं।

7. फिजिकल डिसेबल(PHYSICAL DISABLED) के लिए आवेदक की उम्र 21 से 42 वर्ष होनी चाहिए तथा इस वर्ग में आने वाले सामान्य वर्ग  तथा ओबीसी वर्ग वाले आवेदकों को परीक्षा के लिए 9 अटेम्प्ट में भरने का अवसर प्रदान किया जाएगा तथा अनुसूचित जाति व जनजाति के अंतर्गत आने वाला आवेदकों के लिए परीक्षा के लिए अटेम्प्ट भरने की कोई सीमा निर्धारित नहीं है। 

8. जम्मू एवं कश्मीर(jammu and kashmir) के सामान्य वर्ग आवेदकों के लिए अधिकतम उम्र 37 साल होनी चाहिए तथा ओबीसी वर्ग के लिए 40 तथा अनुसूचित जाति व जनजाति के लिए अधिकतम उम्र 42 होनी चाहिए। फिजिकली डिसेबल्ड लोगो के लिए अधिकतम उम्र 50 वर्ष होनी चाहिए। 

आईएएस बनने की पूरी प्रक्रिया क्या है? (What is the Whole process of becoming IAS in hindi? 

1. आईएएस( IAS) परीक्षा में सबसे पहले आपको बारहवीं कक्षा को पास करना होगा किसी भी विषय के साथ चाहे वह आर्ट्स, कॉमर्स या साइंस स्ट्रीम हो, परंतु आपका 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके बाद आपको किसी भी महाविद्यालय में अपनी इच्छा अनुसार विषय का चयन कर स्नातक स्तर को पूर्ण करना है क्योंकि आईएएस परीक्षा में आवेदन हेतु वह परीक्षार्थी योग्य होता है जिसने ग्रेजुएट स्तर प्राप्त किया हो। 

2. यदि आवेदक यूपीएससी स्तर पर आईएएस(IAS), आईपीएस(IPS) तथा आईआरएस(IRS) जैसी परीक्षाओं के लिए आवेदन करना चाहता है तो स्नातक की डिग्री पूर्ण होने के पश्चात आवेदन कर सकता है। यूपीएससी स्तर की परीक्षा बेहद ही कठिन मानी जाती है इसलिए आवेदन के तुरंत बाद या पहले से ही परीक्षा के लिए तैयारी शुरू कर देनी चाहिए तथा निर्धारित पाठ्यक्रम के अनुसार अपनी तैयारी रखनी चाहिए। 

3. यह परीक्षा तीन भागों में संपूर्ण होती है -: प्रीलिम्स(PRELIMS), मेन्स(MAINS) तथा इंटरव्यू (INTERVIEW)। इस परीक्षा का पहला भाग प्रीलिम्स होता है जिसमें पाठ्यक्रम के अनुसार 200 ऑब्जेक्टिव प्रश्नों का एक प्रारूप तैयार किया जाता है। दूसरे भाग मेन्स होता है इसके अंतर्गत पाठ्यक्रम के अनुसार 9 पेपर का प्रारूप तैयार किया जाता है जिसमें आपको लेखन संबंधी प्रश्न पूछे जाते हैं यानि आपको सारे प्रश्नों के उत्तर लिख कर देना होता है। इस बात के 9 पेपर को पास करना आवश्यक है। प्रीलिम्स और मेन्स क्लियर होने के बाद आपका एक इंटरव्यू होगा जिसके अंतर्गत आपकी सूझबूझ तथा ज्ञान कौशल का आकलन किया जाएगा तथा यदि आप इस इंटरव्यू में पास हो जाते हैं तो आप आईएएस परीक्षा को उत्तीर्ण कर जाते हैं। 

यूपीएससी ऑफिशियल वेबसाइट क्या है? (What is the official website of UPSC ?)

https://www.upsc.gov.in/hi  यह यूपीएससी की ऑफिशियल वेबसाइट है।

अन्त: यूपीएससी स्तर की परीक्षाएं बेहद ही कठिन होती है परंतु यदि एकाग्रता से पढ़ा जाए तो इस परीक्षा को पास किया जा सकता है। यह तो बेहद जरूरी है कि आईएएस परीक्षा के लिए प्रतिदिन सात से आठ घंटे की सेल्फ स्टडी करना आवश्यक है। हर साल लाखों की तादाद में आवेदक इस परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं परंतु कड़ी मेहनत तथा पाठ्यक्रम के आधार पर अपनी रूपरेखा तैयार करने वाले विद्यार्थी ही इस परीक्षा को उत्तीर्ण कर पाते हैं आईएएस की तैयारी के लिए आपको पर्यावरण, भूगोल, इतिहास, राजनीति विज्ञान, अर्थशास्त्र आदि विषयों का ज्ञान होना आवश्यक है। आईएएस परीक्षा में आपकी सामाजिक कौशलों पर भी प्रश्न पूछे जाएंगे। आईएएस परीक्षा में किसी विषय या मुद्दे पर आप कितनी तेजी एवं सरलता से उसका निर्णय निकालते हैं इस समझ का भी आकलन किया जाता है। अच्छा प्रारूप तैयार करें तथा समय निर्धारित कर पाठ्यक्रम को पूरा करें एवं परीक्षा को उत्तीर्ण कर जीवन में अच्छा पद हासिल करें।

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment

अपने विचार comment कर बताएं हम आपके comment का इंतजार कर रहें हैं।